मोतियाबिंद जांच के बारे में जाने सबकुछ- Motiyabind janch ke bare mein jane sabkuch

मोतियाबिंद जांच के बारे में सबकुछ- निदान से लेकर इलाज तक

मोतियाबिंद और उसके लक्षण– Cataract and its symptoms in Hindi

आंख का मोतियाबिंद आंख के प्राकृतिक लेंस का बादल है। मोतियाबिंद का मतलब है आंख के अंदर जो लेंस है वो धुंधला पड़ गया है. तो मूल रूप से आप इसको इस तरह से समझे की अगर सफ़ेद परत आँखों में आ गयी तो आंख के अंदर पढ़ने वाली रोशनी घुस रही है वो कुछ हद तक वही रुक गयी इस सफेदी की वजह से, और कुछ ही रौशनी पर्दा तक पहुंच रही है. इसलिए आपको धुंधला दिखता है. समय के साथ, मोतियाबिंद बड़ा हो सकता है और लेंस के बड़े हिस्से पर बादल छा सकता है, जिससे आपके लिए देखना मुश्किल हो जाता है। जिसके लिए नेत्र देखभाल विशेषज्ञ नेत्र मोतियाबिंद का निदान करते हैं।

मोतियाबिंद के लक्षणों को पहचानने के लिए मोतियाबिंद की जांच करना बेहद जरूरी है। सोचिए एक ऐसी बीमारी जिसका इलाज मौजूद है और सबसे आसान भी है। फिर भी लोग अभी भी आँखों की रौशनी खो रहे है। इसकी अहम वजह है की लोगों में जागरूकता अभी भी कम है.

मोतियाबिंद कई लक्षण पैदा कर सकता है, जिनमें शामिल हैं:

  • दृश्य स्पष्टता कम होने लगती है।
  • आंखों का रंग फीका पड़ने लगता हैं।
  • रोशनी के आस-पास प्रभामंडल दिखने लगते है।  
  • पढ़ने या देखने के लिए ज्यादा रोशनी की जरूरत पड़ती है। 

मोतियाबिंद वृध्दावस्था के लोगों में आम है। भारत में 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों को मोतियाबिंद है। मोतियाबिंद हमेशा उम्र से जुड़ा नहीं होता है, युवा उम्र में भी हो सकता है:

  • युवा उम्र में होने वाले मोतियाबिंद को कॉनजैनाइटल कैट्रेक्‍ट कहते है।
  • ट्रॉमेटिक मोतियाबिंद जोकि चोट के बाद मोतियाबिंद हो सकता है।
  • डायाबेटिक रोगी में अगर अनियंत्रित डायबिटीज है तो या लंबे समय से चली आ रही डायबिटीज है तो किसा भी उम्र में मोतियाबिंद हो सकता है।

मोतियाबिंद की जांच कौन करता है?- Who does Cataract Checkup?

आंख का मोतियाबिंद की जांच या निदान एक ऑप्टोमेट्रिस्ट या एक नेत्र रोग विशेषज्ञ प्रदर्शन करता है। यह निदान करने के लिए, स्वास्थ्य सेवा प्रदाता परीक्षण की एक श्रृंखला करता है, जो आमतौर पर एक पूरा आँख परीक्षण में  शामिल होता है।

मोतियाबिंद की जांच कब करवाना चाहिए- When should a cataract checkup be done?

उम्र बढ़ने के दौरान मोतियाबिंद का विकास आम है, और कई आंखों की स्थिति के लिए सर्जरी या अन्य उपचार से गुजरना पड़ता हैं। मोतियाबिंद में अकसर देखा जाता है कि जिन लोगों की परिवार में पहले किसी को मोतियाबिंद हुआ है उनमें ये आम हो सकता है. साथ ही जो धूम्रपान करते हैं या जिन्हें किसी भी तरह की बीमारी है तो उन्हें ज्यादा जोखिम में डाल सकती है। हालांकि, मोतियाबिंद किसी को भी हो सकता है।

मोतियाबिंद के लक्षण के सवालों की बात करते है जो आपको टेस्ट करवाने से पहले जानने में मदद करेगा. जैसे की:

  1. क्या आपकी नजर पहले की तुलना में ज्यादा धुंधली है?
  2. क्या आपके पास दोहरी नजर की दिक्कत है?
  3. क्या आप रात में खराब नजर का अनुभव करते हैं?
  4. क्या रंग पहले की तुलना में मद्धम दिखाई देते हैं?
  5. क्या आपको पढ़ने के लिए उजली रोशनी की जरूरत है- विशेष रूप से छोटे प्रिंट में?
  6. क्या आप सूरज की रोशनी, कंप्यूटर की रोशनी और उजली रोशनी आपकी आंखों में चुभती हैं?
  7. क्या आपका पर्चे पिछले कुछ सालों में बार-बार बदला है?
  8. क्या आप 60 से अधिक हैं? 

मोतियाबिंद के टेस्ट के दौरान क्या होता और क्या टेस्ट होते है?- What happens during the cataract test and what are the tests?

मोतियाबिंद की जांच या निदान कैसे किया जाता है? यह पता लगाने के लिए कि क्या आपको मोतियाबिंद है, आपके आंख का डॉक्टर कुछ विषेश टेस्ट करेगा. जैसे की 

दृश्य तीक्ष्णता (Visual Acuity)

एक दृश्य तीक्ष्णता टेस्ट निश्चित दूरी  पर किया जाता है, जिससे आपकी दृष्टि की गुणवत्ता को मापने के लिए किया जाता है। आपको एक चार्ट से अलग-अलग आकार के अक्षर को पढ़ने के लिए कहा जाता है. आपकी आंखों को पहले एक-एक करके टेस्ट करेंगे फिर उसके बाद दोनों आंखों को एक साथ चेक की जाएगी. इससे अलग-अलग दूरी पर आपका नजर की सटीकता को मापने के लिए मदद करता है.

इस टेस्ट के परिणाम को अनुपात में रिकॉर्ड किया जाता है, जैसे कि 20/20 या 20/40।  20/20 नजर सामान्य नजर मानी जाती है। 20/20 के अनुपात का मतलब है कि आप किसी ऐसी वस्तु को देख सकते हैं जो सामान्य नजर वाले किसी इंसान की तरह स्पष्ट रूप से 20 फीट दूर है. अगर आपके पास 20/40 नजर है, तो आप 20 फीट दूर एक वस्तु को उतनी ही स्पष्ट रूप से देख सकते हैं जितना कि सामान्य नजर वाला कोई व्यक्ति 40 फीट दूर की वस्तु को देख सकता है।

एक दृश्य तीक्ष्णता टेस्ट आपकी नजर का मूल्यांकन करने का एक आसान, पीड़ारहित तरीका है। हालांकि, और टेस्ट करने की भी जरूरत होती है जिससे पता चलेगा की मोतियाबिंद आपकी दृष्टि समस्या का कारण है या नहीं.

संभावित तीक्ष्णता परीक्षण (Potential Acuity Test)

एक संभावित तीक्ष्णता परीक्षण यह मापता है कि मोतियाबिंद के बिना आंख कितनी अच्छी तरह देख पाएगी या नहीं। मोतियाबिंद की सर्जरी करने से पहले, आपके सर्जन को यह जानना होगा कि प्रक्रिया से आपकी नजर में सुधार होगा। 

इस test के दौरान एक उपकरणों एक लेजर के साथ आंख पर एक नेत्र चार्ट दिखाता है जो संभावित तीक्ष्णता मीटर (PAM) के नाम से जाना जाता है. प्रक्षेपण में मोतियाबिंद को उपमार्ग करता है। जिससे रोगी दीवार पर लगे सामान्य नेत्र चार्ट की तरह ही चार्ट को पढ़ता है।

अगर सर्वोत्तम माप 20/40 है, तो सर्जरी के बाद आंख में कम से कम 20/40 नजर होगी. यह टेस्ट तब और जरूरी हो जाता है जब रोगी को एक मोतियाबिंद के साथ-साथ आंख से संबंधित रोग हो.

कंट्रास्ट संवेदनशीलता (Contrast Sensitivity)

कंट्रास्ट संवेदनशीलता परीक्षण दृष्टि तीक्ष्णता परीक्षण दोनों ही एक जैसा है। इस टेस्ट का लक्ष्य यह पता लगाना है कि आपके लिए कितना आसान है किसी वस्तु को उसके पार्श्वभूमि से अलग करना. अगर आपके लिए किसी वस्तु को कम विपरीत पृष्ठभूमि पर पहचानना मुश्किल है, तो आपके खराब विपरीत संवेदनशीलता है।

पहले समझते है की इस टेस्ट में कंट्रास्ट का मतलब क्या है, कंट्रास्ट का मतलब है कि टोन और रंग जो छवि बनाता है. यानि एक छवि में सबसे हल्का और सबसे गहरा प्रकाश को दिखाती है.

मोतियाबिंद छवि के कंट्रास्ट को कम कर सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मोतियाबिंद प्रकाश के प्रकीर्णन और चकाचौंध का कारण बन सकता है.

स्लिट लैंप (Slit Lamp)

एक स्लिट लैंप एक विषेश प्रकार का माइक्रोस्कोप है जो आपकी आंख को बड़ा करता है। यह आपके स्वस्थ सुविधा प्रदान करने वाला मोतियाबिंद देखने और यह पता लगते है कि यह कितना गंभीर है।

इस टेस्ट के दौरान आप अपनी ठुड्डी को चिनरेस्ट के स्लिट लैंप पर रखेंगे। आपका स्वस्थ सुविधा प्रदान करने वाला आपकी आंख पर रोशनी डालेगा और स्लिट लैंप को देखेगा।

पुतली का फैलाव (Pupil Dilation)

पुतली का फैलाव में मोतियाबिंद का निदान करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला एक सामान्य टेस्ट है। जब आपकी आंख फैलती है, तो पुतली का आकार बढ़ जाता है। यह आपके स्वस्थ सुबिधा प्रदान करने वाला के लिए आपके पूरे लेंस को देखना संभव बनाता है। पूरे लेंस का एक अच्छी नजर आपके स्वस्थ सुविधा प्रदान करने वाला यह पता करने में मदद करता है कि मोतियाबिंद आपकी नजर की गुणवत्ता को प्रभावित कर रहा है या नहीं। पुतली का पतला होना एक सामान्य परीक्षण है। जब तक पूरी तरह से विकसित हो, यह आपके स्वास्थ्य सेवा प्रदाता के लिए पूरी तरह से अक्षम है। आपके स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता को पूरी तरह से एक अच्छी दृष्टि मिलेगी, यह आपकी दृष्टि की गुणवत्ता को प्रभावित करेगा।

अप्प्लानटिओं टोनोमेट्री (Applanation tonometry)

यह परीक्षण आंख में द्रव दबाव को मापता है। अलग-अलग-अलग डिवाइस उपलब्ध हैं।

मोतियाबिंद का टेस्ट क्यों जरूरी है?

मोतियाबिंद टेस्ट आपके दृश्य स्वास्थ्य को बनाए रखने का एक जरूरी हिस्सा है। अगर एक टेस्ट से पता चलता है कि आपको मोतियाबिंद है, तो आपका आंख के डॉक्टर यह पता लगाते है कि इलाज इलाज करने के लिए अगले कदम क्या होंगे।

यहां तक ​​कि अगर आप लक्षण का अनुभव नहीं करते हैं या आपको मोतियाबिंद होने का संदेह है, तो 40 साल की उम्र में और 65 साल की उम्र अपनी आंखों की चेकअप करवाना जरूरी है। जितनी जल्दी दृष्टि संबंधी किसी भी समस्या का पता लगाया जाता है, उतनी ही जल्दी वो अपनी आंखों की चेकअप करा सकते हैं। 

मोतियाबिंद के इलाज से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?- What are the things to keep in mind before undergoing cataract treatment?

मोतियाबिंद की जांच के बाद अब सवाल आता है कि इलाज से पहले या बाद में कौनसी बातो का ध्यान रखना चाहिए. आपरेशन से पहले बहुत ज्यादा सावधानी लेने की जरूरत नहीं है. आपको कुछ हम एंटीबायोटिक दवाइयां देते है. जिनको दिन में चार-पांच बार आंख में डालना होता है. साथ ही साथ डायबिटीज के रोगी होते है तो शुगर नियंत्रण में होना चाहिए। उच्च रक्तचाप से ग्रस्त है तो बीपी नियंत्रण में होना चाहिए। एक मूल रुप से ईसीजी की रिपोर्ट अगर आपको कोई दिल की दिक्कत है. कार्डिएक इश्यू है, तो कार्डिएक क्लीयरेंस कर लेते है. एक बार एनेस्थीसिया से क्लीयरेंस होती है. एक छोटा सा काम है जो एक दिन में सारा स्पष्ट हो जाता है. तो ये सारे से मोतियाबिंद के चेकअप से सम्बंधित जानकारी आज हमने जाना है.

आई मंत्रा – Eye Mantra

कैटरेक्ट सर्जरी के बारे में नई जानकारी के लिए अपने प्री-ऑपरेटिव नेत्र परीक्षण और कैटरेक्ट सर्जरी परामर्श के दौरान हमारे आंखों के डॉक्टर से संपर्क करें।

आंखों से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट eyemantra.in पर जाएं। हमारे विशेषज्ञों से संपर्क करने के लिए और आई मंत्रा के साथ अपनी अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए हमें +91-9711115191 पर कॉल करें या eyemantra1@gmail.com मेल करें।

हमारी अन्य सेवाओं में न्यूरो-ऑप्थल्मोलॉजी, पीडियाट्रिक ऑप्थल्मोलॉजी, स्क्विंट करेक्शन और कई अन्य शामिल हैं। ग्राहक हमारी पहली प्राथमिकता हैं।

Make An Appointment

Free Tele-Consultation

Book Appointment or Video Consultation online with top eye doctors