आंखों की जांच में आई चार्ट का उपयोग – Aankhon Ki Jaanch Mein Eye Chart Ka Upyog

Eye Examination Chart

आंखों की जांच और आई चार्ट – Eye Examination Aur Eye Chart

एक मानक नेत्र परीक्षण (स्टैंडर्ड ऑप्थल्मिक एग्जाम) एक नेत्र रोग विशेषज्ञ या नेत्र चिकित्सक द्वारा किए जाने वाले परीक्षणों की एक लंबी-चौड़ी श्रृंखला है। यह डॉक्टर आंखों के स्वास्थ्य के विशेषज्ञ हैं, जो आपकी दृष्टि और आंखों के स्वास्थ्य दोनों की जांच के लिए इन परीक्षणों का इस्तेमाल करते हैं। एक मानक आंखों की जांच को व्यापक आंखों की जांच या नियमित आंखों की जांच भी कहते हैं। आंखों के सभी हिस्सों की अच्छी तरह से जांच करने के लिए आंखों की जांच की जाती है। अगर आंख का कोई अंग खराब हो या कोई समस्या हो, तो उसे ठीक करने के लिए तुंरत निदान किया जाता है। आंखों की जांच के दौरान आपके डॉक्टर आपके सामने एक आंखों का चार्ट रखते हैं।

eye test chart

स्नेलन आंखों का चार्ट आंखों की जांच के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला सबसे आम चार्ट है, जिसका निर्माण सन् 1860 के दशक में हर्मन स्नेलन नाम के एक डच नेत्र चिकित्सक ने किया था। इस नेत्र चार्ट में बड़े अक्षरों की 11 पंक्तियां हैं, जिसमें पहली पंक्ति में सिर्फ एक ई अक्षर होता है। जैसे-जैसे आप नीचे जाते हैं, अक्षरों की संख्या बढ़ती जाती है और सभी अक्षरों का आकार धीरे-धीरे कम होता जाता है।

इस आंखों के चार्ट का इस्तेमाल आपकी दृष्टि समस्या को निर्धारित करने के लिए किया जाता है। अगर आपको नेत्र चार्ट पढ़ने में परेशानी होती है, तो नेत्र विशेषज्ञ आपकी आंखों के सामने कुछ लेंस रखेंगे और आपको फिर से चार्ट पढ़ने के लिए कहेंगे। इस दौरान डॉक्टर तब तक लेंस बदलते हैं, जब तक आप उन लेंसों के इस्तेमाल से स्पष्ट और 20/20 दृष्टि प्राप्त नहीं कर लेते।

20/20 दृष्टि का क्या मतलब है? 20/20 Vision Ka Kya Matlab Hai? 

20/20 दृष्टि को एक सामान्य दृष्टि माना जाता है, जिसका मतलब है कि आप 20 फीट की दूरी पर चीजों को स्पष्ट रूप से देख सकते हैं। ज्यादातर लोग 20/20 दृष्टि के साथ पैदा होते हैं, लेकिन बाद में मोतियाबिंद, ग्लूकोमा या आंख की चोट जैसे कई कारणों से प्रभावित होते हैं।

विजुअल एक्विटी – Visual Acuity

20/20 दृष्टि को सामान्य विजुअल एक्विटी यानीदृष्टि की स्पष्टता या तीक्ष्णता व्यक्त करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जिसे 20 फीट की दूरी पर मापा जाता है। अगर आपके पास 20/20 दृष्टि है, तो आप 20 फीट पर स्पष्ट रूप से देख सकते हैं, लेकिन आपके पास 20/100 दृष्टि होने का मतलब है कि आपको यह देखने के लिए 20 फीट के करीब होना चाहिए। इस प्रक्रिया से आप जान सकेंगे कि सामान्य दृष्टि वाला व्यक्ति 100 फीट की दूरी पर क्या देख सकता है।

20/20 दृष्टि का मतलब आपके पास पूर्ण दृष्टि का होना नहीं है, क्योंकि 20/20 दृष्टि सिर्फ दूर दृष्टि की शार्पनेस या स्पष्टता को दर्शाती है। पेरिफेरल अवेयरनेस या साइड विजन आंखों का तालमेल, गहराई की धारणा, फोकस करने की क्षमता और कलर विजन सहित अन्य ज़रूरी दृष्टि कौशल आपकी सभी दृश्य क्षमता में योगदान करते हैं।

कुछ लोग दूर से अच्छी तरह देख सकते हैं, लेकिन पास की वस्तुओं पर फोकस करने में असमर्थ होते हैं। यह स्थिति दूरदृष्टि (हाइपरोपिया) या ध्यान केंद्रित करने की क्षमता के नुकसान (प्रेसबायोपिया) के कारण हो सकती है। अन्य लोग पास की वस्तुओं को देख सकते हैं, लेकिन दूर की वस्तुएं उन्हें अस्पष्ट दिखाई देती है, जिसे नज़दीकीपन (मायोपिया ) कहते हैं।

टम्बलिंग “ई” आंखों का चार्ट – Tumbling “E” Eye Chart

Tumbling "E" Eye Charts

छोटे बच्चों में निकट दृष्टिदोष का पता लगाने के लिये टम्बलिंग ई आई चार्ट का इस्तेमाल किया जाता है। यह खासतौर से उन बच्चों के लिए बनाया गया है, जो अभी तक वर्णमाला के सभी अक्षरों को नहीं जानते हैं। यह पहली आंख की परीक्षा बच्चे के साथ खेलने के लिए एक अच्छा खेल है। इसके साथ ही टम्बलिंग ई नेत्र चार्ट उन बच्चों या वयस्कों की दूरी दृश्य तीक्ष्णता का परीक्षण करने के लिए भी उपयोगी है, जो शारीरिक या मानसिक अक्षमता, भाषा अवरोध या अन्य कारणों से मौखिक संवाद नहीं कर सकते हैं।

आंखों के इन चार्ट में सिर्फ ई अक्षर का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन आपके पढ़ते वक्त अक्षर की दिशा बदल जाती है। इसके लिए आंखों का चार्ट पढ़ने वाले व्यक्ति को शब्द की दिशा को बताने की ज़रूरत होती है। आमतौर पर इस दौरान उन्हें दिशा बताने के लिए अपनी हाथों या हाथ की पहली उंगली का इस्तेमाल करने के लिए कहा जाता है, जिसमें दिशा बाएं, दाएं, ऊपर या नीचे हो सकती है। शोध और अध्ययन के मुताबिक, टम्बलिंग ‘ई’ चार्ट का इस्तेमाल करके किया गया विजुअल एक्विटी टेस्ट वही परिणाम देता है, जो स्नेलन के नेत्र चार्ट परीक्षण से प्राप्त होता है।

फैली हुई आंखों की जांच – Dilated Eye Exam

एक फैली हुई आंख की जांच में नेत्र चिकित्सक आपकी आंख के पिछले हिस्से यानी रेटिना को देखते हैं, जिसे आमतौर पर नियमित आंखों की जांच की तरह किया जाता है। इस दौरान आपकी पुतलियों के फैलाव के लिए डॉक्टर आई ड्रॉप का इस्तेमाल करते हैं, जिससे आंख के पिछले हिस्से को देखना आसान हो जाता है। इसके अलावा आपके डॉक्टर आंखों की सतह को सुन्न करने के लिए आई ड्रॉप्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इससे पुतलियों को पूरी तरह से फैलाने में लगभग पंद्रह से बीस मिनट का समय लगता है, लेकिन इस दौरान आई ड्रॉप्स आपकी आंखों को चुभ सकती हैं।

इससे आपके मुंह में दवा का स्वाद भी पैदा हो सकता है। जब आपकी पुतलिया फैली हों, तो आपके डॉक्टर आपकी आंखों में एक तेज़ रोशनी चमकाकर आंखों की जांच करेंगे। अगर आपके परिवार में किसी को काला मोतिया (ग्लूकोमा) है, तो इस बारे में अपने चिकित्सक को बताएं और अगर आपको किसी भी प्रकार की आईड्रॉप्स से एलर्जी है, तो आपकी दृष्टि कई घंटों तक धुंधली रहेगी।

डायबिटीज़ वाले हर मरीज़ को नियमित रूप से अपनी आंखों की जांच करवाना ज़रूरी है। डायबिटीज़ से आंखों की समस्याएं हो सकती हैं, जो दृष्टि हानि या अंधेपन का कारण बनती हैं। आपको जितने समय तक डायबिटीज़ रहेगी, उतनी ही आपमें आंखों की समस्या होने की संभावना ज़्यादा होगी। दृष्टि संबंधी कोई भी समस्या दिखाई देने तक आपकी आंखों में पहले से ज़्यादा गंभीर नुकसान होने की संभावना बढ़ सकती है। आंखों की पूरी जांच से लक्षणों का जल्द पता लगाने में मदद मिल सकती है और प्रारंभिक उपचार आपकी दृष्टि की रक्षा करने में मदद कर सकता है।

आंखों की जांच की सीमाएं – Eye Exam Limitations

आंखों के चार्ट को सिर्फ दृश्य तीक्ष्णता (विजुअल एक्विटी) को मापने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इससे डॉक्टर को आपकी आंखों के लिए ज़रूरी लेंस की पावर का पता लगाने में मदद मिलती हैं। इससे उन्हें यह निर्धारित करने में भी मदद मिलती है कि आपको चश्मे या कॉन्टैक्ट लेंस के इस्तेमाल की ज़रूरत है या नहीं। अगर आपकी दृष्टि बहुत खराब है यानी 20/200 है, तो आपको गाड़ी चलाने की अनुमति नहीं है, क्योंकि इससे दुर्घटनाओं की संभावना बढ़ जाती है।

आंखों के परीक्षण के बाद आपके डॉक्टर आपको वह सभी बातें बताएंगे, जो आपको किसी भी नुकसान से बचने के ध्यान में रखना ज़रूरी है। नेत्र चार्ट आपकी रंग धारणा, गहराई की धारणा या परिधीय दृष्टि को नहीं मापते हैं। इससे किसी भी आंखों की बीमारी, जैसे ग्लूकोमा या इसके कारण होने वाले दबाव का पता लगाने में भी मदद नहीं मिलती है और न ही यह आपकी आंखों या रेटिना के सूखेपन की भी जांच नहीं करता है, जिससे इसकी अच्छी या खराब स्थिति का पता नहीं लगाया जा सकता है।

आंखों की जांच के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला आंखों का चार्ट संपूर्ण नेत्र परीक्षण का एक घटक मात्र है। इस पर पूरी तरह से भरोसा नहीं किया जा सकता, क्योंकि अन्य कारण भी आपकी आंख में परेशानी पैदा कर सकते हैं। सुनिश्चित करें कि अगर चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस पहनने के बाद आपकी आंखों की समस्या का इलाज नहीं किया गया है, तो तुरंत अपने नेत्र चिकित्सक से परामर्श करें और साल में कम से कम एक बार नियमित जांच के लिए ज़रूर जाएं।

अवलोकन – Overview

आंखों के चार्ट का इस्तेमाल आंखों की जांच के लिए किया जाता है, जो मुख्य रूप से किसी व्यक्ति की विजुअल एक्विटी को निर्धारित करने में मदद करता है। इसमें कई अक्षर होते हैं, जो नीचे जाने पर धीरे-धीरे कम होते जाते हैं। इस चार्ट को खासतौर से पढ़ने या बोलने में असमर्थ लोगों और बच्चों के लिए बनाया गया है। इसे टम्बलिंग ‘ई’ आई चार्ट के नाम से जाना जाता है, जिसमें एक ही अक्षर की अलग-अलग दिशाओं का इस्तेमाल किया जाता है।

ऐसे आंखों के चार्ट में मरीज़ को अक्षर की दिशा के बारे में बताना होता है। दोनों आंखों नेत्र चार्ट लगभग एक जैसे नतीजे देते हैं। हालांकिआई चार्ट टेस्ट की कुछ सीमाएं हैं और आप अपनी आंख की समस्या का कारण निर्धारित करने के लिए इस पर पूरी तरह से भरोसा नहीं कर सकते हैं।

निष्कर्ष – Nishkarsh

आंखों से जुड़ी किसी भी समस्या के लिए आप हमारे दिल्ली स्थित आईमंत्रा हॉस्पिटल में विज़िट कर सकते हैं। ज़्यादा जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट eyemantra.in पर जाएं। हमारे साथ अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए आज ही +91-9711115191 पर हमें कॉल करें। आप हमें eyemantra1@gmail.com पर मेल भी कर सकते हैं।

हमारी महान और अनुभवी नेत्र रोग विशेषज्ञों की टीम हमेशा आपकी आंखों के लिए सबसे अच्छा सुझाव देगी। हमारी अन्य सेवाओं में रेटिना सर्जरीचश्मा हटानालेसिक सर्जरीभेंगापनमोतियाबिंद सर्जरी और ग्लूकोमा सर्जरी सहित कई अन्य सेवाएं शामिल हैं। 

Make An Appointment

Free Tele-Consultation

Book Appointment or Video Consultation online with top eye doctors