ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन: आखों और दृष्टि के लिए फायदे – Lutein Aur Zeaxanthin: Eyes Aur Vision Ke Liye Benefits

Lutein and zeaxanthin

ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन क्या है? Lutein Aur Zeaxanthin Kya Hai?

ज़ेक्सैंथिन और ल्यूटिन को कैरोटेनॉयड्स, ज़ैंथोफिल्स के वर्ग के अंतर्गत बांटा गया है। ज़ैंथोफिल और कैरोटेनॉयड्स पौधों में प्राकृतिक सनस्क्रीन का काम करते हैं। साथ ही इनका अन्य काम अत्यधिक प्रकाश-उत्पन्न ऊर्जा (जीवन-विस्तार) के हानिकारक प्रभावों से उनकी रक्षा करना है। यह दोनों पोषक-तत्व आंखों के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, जो आपके मैक्युलर डीजनरेशन और मोतियाबिंद के रिस्क को कम कर सकते हैं।

फायदे – Benefits

  • ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन दोनों ही आपके शरीर के प्रोटीन, वसा और डीएनए को तनाव से बचाने के साथ ही आपके शरीर में एक अन्य प्रमुख एंटीऑक्सिडेंट ग्लूटाथियोन को रीसायकल करने में भी मदद करते हैं।
  • इसके अलावा इनके एंटीऑक्सीडेंट गुण “खराब” एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के प्रभाव को कम कर सकते हैं, जिससे आपकी धमनियों में प्लाक का कम निर्माण होने से दिल की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।
  • दोनों ही आपकी आंखों को फ्री रेडिकल डैमेज से भी बचाते हैं।
  • आपकी आंखें ऑक्सीजन और प्रकाश दोनों के संपर्क में आती हैं, जो बदले में हानिकारक ऑक्सीजन फ्री रेडिकल के उत्पादन को बढ़ावा देती हैं। ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन द्वारा इन मुक्त कणों को रद्द किये जाने के कारण वह आपकी आंखों की कोशिकाओं को नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं।
  • कैरोटेनॉयड्स एक साथ बेहतर काम करते हैं और एक ही एकाग्रता और एक साथ होने पर ज़्यादा प्रभावी ढंग से इन मुक्त कणों का मुकाबला कर सकते हैं।
  • दोनों ही रेटिना में जमा होने वाले एकमात्र डाइट्री कैरोटीनॉयड हैं। खासतौर से मैक्युला क्षेत्र जो आपकी आंख के पीछे होता है।
  • मैक्युला में केंद्रित मात्रा में पाए जाने के कारण उन्हें मैक्लयुर पिगमेंट के तौर पर जाना जाता है।
  • मैक्युला दृष्टि के लिए ज़रूरी है। ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन आपकी आंखों को हानिकारक फ्री रेडिकल्स से बचाकर इस क्षेत्र में महत्वपूर्ण एंटीऑक्सिडेंट के तौर पर काम करते हैं।
  • दोनों अतिरिक्त प्रकाश ऊर्जा को अवशोषित करके प्राकृतिक सनब्लॉक का भी काम करते हैं।

इन कंडीशन में ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन आपकी मदद कर सकते हैं, जैसे- 

  • उम्र से संबंधित-मैक्यूलर डिजनरेशन (एएमडी): ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन का सेवन एएमडी की प्रोग्रेस को रोकने का काम करता है, जिससे अंधेपन से बचा जा सकता है।
  • मोतियाबिंद: आपकी आंख के सामने वाले हिस्से में मौजूद क्लाउडी पैच को मोतियाबिंद कहते हैं, जिसके फॉर्मेशन को ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने से धीमा किया जा सकता है।
  • डायबिटीक रेटिनोपैथी: एनिमल डायबिटीज स्टडी के मुताबिक, ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन एक साथ मिलकर आंखों को नुकसान पहुंचाने वाले ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस मार्कर्स को कम करते हैं।
  • आई डिटेचमेंट: जिन चूहों को ल्यूटिन के इंजेक्शन दिए गए थे, उनमें कॉर्न ऑयल के इंजेक्शन लगाने वालों की तुलना में 54 प्रतिशत कम कोशिका मृत्यु हुई थी।
  • यूवाइटिस: आंख की बीच की परत में सूजन की स्थिति को यूवाइटिस कहते हैं, जिसके इंफ्लेमेटरी प्रोसेस को ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन की मदद से कम किया जा सकता है।

आंखों की हेल्थ के लिए ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन का समर्थन करने वाले रिसर्च के फायदे हैं। सभी स्टडी इसके फायदे नहीं दिखाती हैं, जैसे- कुछ अध्ययनों में ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन के सेवन और शुरुआती उम्र से संबंधित मैक्युलर डिजनरेशन के रिस्क के बीच कोई संबंध नहीं पाया गया। हालांकि कई कारक हैं, लेकिन अब भी आपकी आखों के पूरे स्वास्थ्य के लिए  पर्याप्त ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन होना ज़रूरी है।

हाल में ही स्किन पर ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन के फायदे वाले प्रभावों की खोज की गई है, जिसमें उनके एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव उन्हें आपकी स्किन को सूरज की हानिकारक पराबैंगनी (यूवी) किरणों से बचाने का काम करते हैं। दो हफ्ते की एनिमल स्टडी से पता चला है कि जिन चूहों ने 0.4 प्रतिशत ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन से भरपूर आहार लिया था, उनमें यूवीबी से प्रेरित स्किन की सूजन उनके मुकाबले में कम थी, जिन्हें इन कैरोटीनॉयड का सिर्फ 0.04 प्रतिशत मिला था।

एक अन्य स्टडी में हल्के से मध्यम ड्राई स्किन वाले 46 लोगों में 10 मिलीग्राम ल्यूटिन और 2 मिलीग्राम ज़ेक्सैंथिन लिया था, उन्होंने कंट्रोल ग्रुप (26 ट्रस्टेड सोर्स) की तुलना में स्किन की टोन में काफी सुधार किया। इसके अलावा ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन आपकी स्किन की कोशिकाओं को समय से पहले बूढ़ा होने और यूवीबी-प्रेरित ट्यूमर से भी बचा सकते हैं।

डोसेज़ – Dosage

मौजूदा समय में दोनों के लिए कोई बताया गया आहार सेवन नहीं है। इसके अलावा आपके शरीर को ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन की मात्रा की ज़रूरत इसे सहन करने वाले तनाव की मात्रा पर निर्भर करती है, जैसे- धूम्रपान करने वालों को ज़्यादा ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन की ज़रूरत हो सकती है, क्योंकि उनमें धूम्रपान नहीं करने वालों की तुलना में कैरोटीनॉयड का लेवल कम होता है। 

असल में प्रतिदिन 6 से 20 मिलीग्राम डाइट ल्यूटिन आंखों की स्थिति के कम रिस्क से जुड़ा है। उम्र से संबंधित नेत्र रोग अध्ययन 2 (एआरईडीएस 2) की स्टडी में पाया गया कि 10 मिलीग्राम ल्यूटिन और 2 मिलीग्राम ज़ेक्सैंथिन ने उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन की प्रोग्रेस की एक एडवांस स्टेज में ज़रूरी कमी का कारण बना। इसी तरह 10 मिलीग्राम ल्यूटिन और 2 मिलीग्राम ज़ेक्सैंथिन के एक साथ सेवन से पूरी स्किन टोन में सुधार हो सकता है।

ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन: सेफ्टी प्रोफ़ाइल – Lutein Aur Zeaxanthin: Safety Profile

रिसर्च के मुताबिक, ल्यूटिन के बॉडी वेट का 0.45 मिग्रा. प्रति पाउंड यानी 1 मिग्रा. प्रति किग्रा. और बॉडी वेट के 0.34 मिग्रा. प्रति पाउंड यानी 0.75 मिग्रा. प्रति किग्रा. दैनिक ज़ेक्सैंथिन के बॉडी वेट सुरक्षित है। चूहों पर की गई एक स्टडी बॉडी वेट के 1,814 मिग्रा. प्रति पाउंड यानी 4,000 मिग्रा./किग्रा. तक की दैनिक खुराक के लिए ल्यूटिन या ज़ेक्सैंथिन के लिए कोई उल्टा असर नहीं पाया गया, जो टेस्ट की गई सबसे ज़्यादा डोज़ थी।

फूड सोर्स – Food Sources

यह फलों और सब्ज़ियों के चमकीले रंग के लिए दोनों ही जिम्मेदार हैं, लेकिन हकीकत में इनकी ज़्यादा मात्रा पत्तेदार हरी सब्ज़ियों में पाई जाती है। हालांकि यह गहरे हरे रंग की सब्जी में क्लोरोफिल दोनों रंगद्रव्य को मास्क करता है, जिसके कारण सब्जियां हरे रंग की दिखाई देती हैं। केल, पार्सले, पालक, ब्रोकोली और मटर इन कैरोटीनॉयड के प्रमुख स्रोत हैं। केल ल्यूटिन के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है, जिसमें इसकी मात्रा 48 से 115 एमसीजी प्रति ग्राम है। संतरे का जूस, हनीड्यू तरबूज, कीवी, लाल मिर्च, स्क्वैश और अंगूर भी ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन के अच्छे स्रोत हैं। इसके अलावा ड्यूरम गेहूं और मकई में भी यह अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। 

निष्कर्ष – Nishkarsh

ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन या आंखों से संबंधित अन्य बीमारी के बारे में अधिक जानने के लिए आप आसानी से हमारी वेबसाइट eyemantra.in पर जा सकते हैं। आईमंत्रा में अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए आप हमें +91-9711115191 पर कॉल कर सकते हैं, जहां हमारे एक्सपर्ट नेत्र रोग विशेषज्ञ आपकी आंखों की बीमारी का सर्वोत्तम तरीके से आंकलन कर सकेंगे। आप ईमेल के माध्यम से भी हमसे संपर्क कर सकते हैं। हमारी ईमेल आईडी है eyemantra1@gmail.com। आईमंत्रा में प्रदान की जाने वाली सेवाओं में ऑक्यूप्लोप्लास्टी, रेटिना सर्जरीचश्मा हटानालेसिक सर्जरीभेंगापनमोतियाबिंद सर्जरी और ग्लूकोमा सर्जरी सहित अन्य कई सेवाएं शामिल हैं।  

Make An Appointment

Free Tele-Consultation

Book Appointment or Video Consultation online with top eye doctors